मुश्किलों के डर को गले लगाए ( Mushkilo Ke Darr Ko Gale Lagaye ) Motivational Story In Hindi

मुश्किलों के डर को गले लगाए

कर गुजरे कुछ ऐसा  कि जमाना देखते रहे …….
सफलता कि चाह में असफलता को हराते रहे……

मुश्किलों के डर को गले लगाने से मतलब है, “आपके अन्दर असफल होने का डर” | अक्सर हम किसी काम को करने से पहले ही सोचने लगते है कि ये काम करने से मेरी इज्जत को नुकसान पहुचेगा या फिर ये काम में, अगर असफल हो गया तो  मेरे अन्दर कि प्रतिभा कम हो जायेगी,  मै टूट जाऊँगा अनादि बातें | दरअसल ये साड़ी फिजूल बाते ही हम सोचते है लेकिन ऐसा कुछ नहीं होता है, क्योकि जबतक हम अपने अन्दर असफल होने के डर पर विजय प्राप्त नहीं करेंगे / उसे पराजित नहीं करेंगे, तबतक अपने अन्दर सफल का आगमन नहीं हो सकता है | सीधी सी बात है… अगर आप असफलता को जीत लिए.. मतलब सफलता को प्राप्त कर लिए | जब हमारे मन में असफल रहेगा ही नहीं तो फिर क्या बचेगा.. सफल | बिलकुल उसी तरह जैसे शरीर से अगर नकारात्मक बाते या फिर हमारी बुराइयों को निकल दिया जाए तो सिर्फ अच्छाई बचती है | इसीलिए आप अपने जिस मंजिल तक पहुचना चाहते है चाहे वो जिन्दगी की कोई भी मंजिल हो या फिर आपके क्षण भर के काम हो तो उसके रास्ते में जो आपको असफल होने का संकेत दे रहा है, जो ऐसा लगता है कि ये ही हमारे लिए सबसे बड़ी कठिनाई लग रही है तो आप पुरे सिद्दत से सबसे पहले उसे ही पराजित करे | ऐसे ही धीरे-धीरे असफल को पराजित करते रहे तो आपके राह में और जिन्दगी में सिर्फ और सिर्फ सफलता ही रह जायेगी | अंत में सिर्फ इतना ही कहना चाहता हूँ…

नहीं रुकते है हम, छोटे-बड़े मुश्किलों से ……
लगाते है गले हम, इनको अपने दिलो से ……

इसी तरह के उत्प्रेरक और मनोरंजन से भरा कहानी पढ़ना चाहते है तो बिहार के उभरता हुआ वेबसाइट ackiaadat.com से जुड़ जाए….धन्यवाद

Written By :- Team AC KI AADAT

 

Share

Aditya Chaurasia

This Is The Best Entertainment & Motivational Website For You....Thanks For Visit.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *